जिला स्तरीय पुनरीक्षा जिला सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न

नन्द्कुमार कश्यप ब्यूरो प्रमुखNewsman Only Truthदेवी पाटन मण्डल

बहराइच 09 अगस्त। शुक्रवार की देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्तरीय पुनरीक्षा/जिला सलाहकार समिति की बैठक के दौरान लीड बैंक प्रबन्धक ने बताया कि दर्ज आर.सी. पत्रावलियों में अपेक्षानुसार वसूली नहीं हो पा रही है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने लीड बैक प्रबन्धक को निर्देश दिया कि अपर जिलाधिकारी व मुख्य राजस्व अधिकारी के साथ अलग से बैठक कर आर.सी. की समीक्षा कर अपेक्षानुसार वसूली सुनिश्चित करायें।रोज़गार सृजन कार्यक्रमों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त उद्योग केन्द्र को निर्देश दिया गया कि खादी ग्रामोद्योग एवं खादी बोर्ड की योजनाओं की अपने स्तर से समीक्षा कर बैंकों को ऋण पत्रावलियों का प्रेषण समय से करायें। उपायुक्त को निर्देश दिया गया कि प्रेषित ऋण पत्रावलियों के सम्बन्ध में बैकों के साथ समन्वय कर उन्हें स्वीकृति कराने तथा ऋण वितरण की कार्यवाही करायी जाये। समीक्षा में पाया गया कि खादी ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना के तहत लक्ष्य 208 के सापेक्ष मात्र 26 तथा प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन कार्यक्रम के अन्तर्गत 176 सापेक्ष प्रेषण शून्य पाये जाने पर नाराज़गी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष ऋण आवेदन-पत्र बैंकों को प्रेषित करायें। समीक्षा के दौरान पाया गया कि सिंडीकेट बैंक रायपुरराजा, इलाहाबाद बैंक बाबागंज व रिसिया शाखा द्वारा रोज़गार सृजन कार्यक्रमों अन्तर्गत प्रेषित ऋण पत्रावलियों में अपेक्षित रूचि नहीं ली जा रही है। इस सम्बन्ध में लीड बैंक प्रबन्धक को आवश्यक कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये। राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि इलाहाबाद बैंक की शाखा छावनी व नाज़िरपुरा तथा विजया बैंक व्यक्तिगत ऋण व सामूहिक ऋण पत्रावलियों में अपेक्षित सहयोग नहीं दे रहे हैं। बैठक के दौरान यह भी बताया गया कि विजया बैंक द्वारा समूहों का खाता खोलने में भी आनाकानी की जा रही है। इस स्थिति का कड़ा संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने लीड बैंक प्रबन्धक को निर्देश दिया कि तत्काल स्थिति में सुधार लाये अन्यथा सम्बन्धित बैंक के विरूद्व कार्यवाही के लिए प्रकरण को बैंक के उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाया जायेगा।जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायतों के निष्पादन की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि मुख्यमंत्री व पीजी पोर्टल को काई सन्दर्भ लम्बित नहीं है। अलबत्ता आॅनलाइन के 41 जिसमें सर्वाधिक 17 एसबीआई, 08 इलाहाबाद बैंक, 05 यूनियन बैंक, 03 एचडीएफसी, बैंक आॅफ इण्डिया व बड़ौदा के स्तर पर 02-02, सेन्ट्रल बैंक आॅफ इण्डिया, आईसीआईसीआई व पीएनबी के स्तर पर 01-01, सम्पूर्ण समाधान दिवस के 09 सन्दर्भो में सर्वाधिक 04 एसबीआई, 02 जिला सहकारी बैंक, इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक, यूनियन बैंक आॅफ इण्डिया व इलाहाबाद बैंक के स्तर पर 01-01 तथा जिलाधिकारी के 15 सन्दर्भ जिसमें सर्वाधिक 05 एसबीआई, बैंक आॅफ इण्डिया, इलाहाबाद बैंक, केनरा बैंक व पीएनबी के स्तर पर 02-02, बैंक आॅफ बड़ौदा व यूको बैंक के स्तर पर 01-01 के सन्दर्भ लम्बित है। जिलाधिकारी ने बैंक प्रतिनिधियों को निर्देश दिया कि जनसुनवाई पोर्टल पर प्राप्त होने वाली शिकायतों का गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर समय के अन्दर अवश्य कर दें। अनिस्तारित शिकायतों की पूर्ण ज़िम्मेदारी सम्बन्धित बैंकों की होगी।जिला स्तरीय आरसेटी सलाहकार समिति की बैठक के दौरान बताया गया कि आॅल बैंक ग्रामीण स्वरोज़गार प्रशिक्षण संस्थान अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2018-19 में 20 प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से 600 लोगों को प्रशिक्षित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।जिसकेसापेक्षअबतकपी.एम.ई.जी.पी., डेस्क्टाप पब्लिशिंग व डेयरी फार्मिंग एवं वर्मी कम्पोस्ट के लिए कुल 03 प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर 58 लोगों को प्रशिक्षित किया गया है। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने सभी बैंकों से अपेक्षा की ग्राम स्वराज अभियान अन्तर्गत द्वितीय चरण के लिए निर्धारित लक्ष्यों को 15 अगस्त 2018 तक अवश्य पूर्ण कर लें। उन्होंने कहा कि आकांक्षात्मक जनपद के रूप में चिन्हित बहराइच को विकास के पथ पर आगे ले जाने के लिए सभी बैंकों को एक टीम भावना के साथ कार्य करना होगा। सभी बैंकों का प्रयास होना चाहिए कि रोज़गारपरक योजनाओं का लाभ सभी पात्र व्यक्तियों तक समय से पहुॅचायें।इस अवसर पर लीड बैंक प्रबन्धक श्रवण कुमार व आर.वी.एस. राजपूत, डीडीएम नाबार्ड एम पी बरनवाल, जिला विकास अधिकारी वीरेन्द्र सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. बलवन्त सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती लवी मिश्रा सहित अन्य जिला सतरीय अधिकारी व बैंक प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *