सितम्बर तक पूर्ण करायें शौचालयों का निर्माण: जिलाधिकारी माला श्रीवास्त

बहराइच । नगर निकाय अन्तर्गत संचालित कार्यों की समीक्षा केलिए बुधवार की देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरानजिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने समस्त नगर निकायों के अधिशासी अधिकारियोंको निर्देश दिया कि नगर क्षेत्र में कहीं पर डम्प कूड़ा नहीं दिखना चाहिए,अन्यथा की स्थिति में सम्बन्धित की जिम्मेदारी तय कर कठोर कार्यवाही कीजायेगी। उन्होंने अधिशासी अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि स्वयंअपने-अपने निकाय क्षेत्रों में नियमित रूप से भ्रमण कर साफ-सफाई, कू उठान, नाला-नालियों की सफाई, जल भराव इत्यादि का निरीक्षण कर तत्कालअपेक्षित कार्यवाही करते हुए यथा स्थिति से उन्हें अवगत कराते रहें।निकायवार समीक्षा के दौरान नगर पालिका परिषद नानपारा की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर जिलाधिकारी ने ईओ नानपारा को प्रतिकूल प्रविष्टि दिये जाने का निर्देश दिया।बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को स्पष्ट किया कि वर्ष 2012 में ग्रामों में हुए बेस लाईन सर्वे के आधार पर शौचालय का निर्माण पूर्णहो जाने पर ग्रामीण क्षेत्र तथा नगरीय क्षेत्रों के लिए 500 मीटर की परिधि में सामुदायिक शौचालय व सार्वजनिक शौचालयों की उपलब्धता के आधार परनगरीय क्षेत्रों को ओ.डी.एफ. घोषित किये जाने की कार्यवाही की जायेगी।निकायों में कान्हा पशु आश्रयों के संचालन की समीक्षा के दौरान बताया गयाकि नगर पालिका परिषद नानपारा व नगर पंचायत में निर्माण का कार्य प्रगतिपर है जिलाधिकारी ने सम्बन्धित ई.ओ. को निर्देश दिया कि निर्माण कार्य कोसमय से पूर्ण कराया जाय।जिलाधिकारी ने सभी नगर निकायों को निर्देश दिया कि साफ-सफाई हेतु लोगोंको जागरूक करने के लिए विभिन्न माध्यमों यथा नुक्कड़ नाटक के माध्यम सेलोगों को जागरूक भी करें। जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने समस्त अधिशासीअधिकारियों को निर्देश दिया कि वर्षा ऋतु को देखते हुए जल निकासी कीप्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने के उद्देश्य से प्रतिदिन मुख्य मार्गांे, गलियों, सड़कों, नाला व नालियों की सफाई करायी जाय। वर्षा के दौरान संचारी रोगों के प्रभावी नियंत्रण के लिए जिलाधिकारी ने जल भराव तथा जेई/एई के लिए संवेदनशील स्थानों पर फागिंग व एंटीलार्वा का छिड़काव कराये जाने का निर्देश दिया।जिलाधिकारी ने प्रभारी अधिकारी स्थानीय निकाय को निर्देश दिया कि सभीपूर्ण तथा आनगोईंग प्रोजेक्ट की फोटोग्राफ्स मंगाई जाये तथाआवश्यकतानुसार कार्यस्थलों का सत्यापन भी कराया जाय। उन्होंने सभी अधि.अधिकारियों को सचेत किया कि निर्माण कार्यांे की गुणवत्ता पर ध्यान देतेहुए सभी प्रस्तावित कार्यों को समय से पूर्ण कराएं। स्वच्छ पेयजल कीउपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए उन्होंने सभी नलकूपों व हैण्डपम्पों कोक्रियाशील रखने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी अधिशासी अधिकारियों कोनिर्देश दिया कि जनपद के सभी वार्डांे को शीघ्र से शीघ्र ओ.डी.एफ. करनेकी कार्यवाही पूर्ण करें।जिलाधिकारी ने प्रभारी अधिकारी स्थानीय निकाय को निर्देश दिया कि सभीपूर्ण तथा आनगोईंग प्रोजेक्ट की फोटोग्राफ्स मंगाई जाये तथाआवश्यकतानुसार कार्यस्थलों का सत्यापन भी कराया जाय। उन्होंने सभी .अधिकारियों को सचेत किया कि निर्माण कार्यांे की गुणवत्ता पर ध्यानदेतेहुएसभीप्रस्तावित कार्यों को समय से पूर्ण कराएं। कर-करेत्तर राजस्वसमीक्षा के दौरान पाया कि बहराइच एवं नानपारा की प्रगति मानक के अनुसारनहीं है, इस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि प्रगति में अपेक्षित सुधारलाया जाय।वार्डों के ओ.डी.एफ. प्रगति की समीक्षा के दौरान नोडल अधिकारी ने बतायाकि नगर पालिका परिषद बहराइच अन्तर्गत 31 के सापेक्ष 30 व नानपारा में 25 के सापेक्ष 24, नगर पंचायत जरवल में 13 के सापेक्ष 12 तथा रिसिया में 11के सापेक्ष 10 वार्ड इस प्रकार कुल 80 वार्डो के सापेक्ष 76 वार्ड ओ.डी.एफ. हो गये हैं। समस्तं शत-प्रतिशत ओडीएफ वार्डों के प्रमाण-पत्र प्राप्त कर लिये गये हैं, शेष निकायों में प्रमाण-पत्र प्राप्त करने कीकार्यवाही की जा रही है।स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) अन्तर्गत नगर निकायों में निर्मित हो रहे स्वच्छशौचालयों की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि न.पा.परि. बहराइच में लक्ष्य3557 के सापेक्ष 1308 निर्मित व 2194 निर्माणाधीन, नानपारा में लक्ष्य1993 के सापेक्ष 1285 निर्मित व 241निर्माणाधीन, न.पं. रिसिया मेंलक्ष्य 1033 के सापेक्ष 604 निर्मित व 356 निर्माणाधीन व जरवल में लक्ष्य954 के सापेक्ष 367 निर्मित व 401 निर्माणाधीन हैं। जिलाधिकारी नेनिर्देश दिया कि 28 सितम्बर 2018 तक शत-प्रतिशत शौचालयों का निर्माणपूर्ण कर लिया जाय। उन्होंने निर्देश दिया कि सत्यापन के दौरान यह भी देखलिया जाय कि क्या लाभार्थी को किसी अन्य मद से भी शौचालय निर्माण का पैसामिला है। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने स्वास्थ विभाग तथा नगरीय विकासअभिकरण अन्तर्गत संचालित कार्यों की भी समीक्षा की तथा सम्बन्धितअधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राहुल पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी राम सुरेश वर्मा, नगर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा.ए.के. पाण्डय, अधि.अभि. जल निगम आर.बी. राम, जिला कार्यक्रम अधिकारीसुनील कुमार श्रीवास्तव, डीपीएम एनएचएम डा. आर.बी. यादव, डीएचईआईओ सुनील कुमार सिंह, परियोजना अधिकारी डूडा संजय कुमार सिंह, अधि.अधि. न.पा.परि.बहराइच पवन कुमार, नानपारा के अशोक कुमार तिवारी व रिसिया के शेलेन्द्रमिश्रा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।.      Bureau Pramukh Nandkumar Kashyap Devi Patan Mandal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *