जनपद को कुपोषण मुक्त बनाने के लिए जिलाधिकारी ने की अभिनव प्रयोग की शुरूआत

नन्द्कुमार कश्यप ब्यूरो प्रमुखNewsman Only Truthदेवी पाटन मंडल

बहराइच 25 सितम्बर। जनपद को कुपोषण मुक्त किये जाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव के अभिनव प्रयास के तहत स्वस्थ्य शिशु, स्वस्थ्य बच्चा, स्वस्थ्य किशोर एवं किशोरी, स्वस्थ्य गर्भवती महिला, किशोर मित्र विद्यालय, स्वच्छ कार्यालय, पोषण प्रेरक व पोषण चैम्पियन विषय पर बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा विकास भवन सभागार मंे एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसके अलावा कार्यक्रम के दौरान सभी बाल विकास परियोजनाओं द्वारा पोषाहार से तैयार किये गये विविध प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजनों के स्टाल भी लगाये गये जिसमें सर्वश्रेष्ठ प्रथम तीन स्थान प्राप्त करने वाले स्टालों को सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि स्वास्थ्य, स्वच्छता, एवं पोषण के क्षेत्र में उपस्थित प्रतिभागियों द्वारा अत्यन्त उत्कृष्ट कार्य किया गया है, जिससे समाज में स्वास्थ्य पोषण एवं स्वच्छता के सम्बन्ध मंे एक अच्छा संदेश जनमानस मंे पहुंचेगा जिससे कुपोषण में कमी आयेगी। कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि बहुत ही सराहनीय स्टाल लगाये गये हैं। जनपद से कुपोषण समस्या को समाप्त किये जाने का यह एक अभिनव प्रयोग है। इस प्रकार के आयोजनों से जनपद बहराइच एक मिशाल के रूप में उभर रहा है। कार्यक्रम में मौजूद लोगों के उत्साह को देखकर यह प्रतीत हो रहा है कि जनपद को शीघ्र ही कुपोषण की समस्या से निजात मिल जायेगी उन्हांेने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दीं। इससे पूर्व उन्होंने बाल विकास परियोजनाओं द्वारा पोषाहार से तैयार किए गये विभिन्न व्यंजनों का निरीक्षण कर जायजा लिया और बाल विकास परियोजनाओं द्वारा जनपद को कुपोषण मुक्त किये जाने हेतु किये गये अभिनव प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजन का उद्देश्य यह है कि पोषाहार से बने विविध व्यंजन तैयार कर जनपद को कुपोषण मुक्त कराया जा सके और इस अभिनव प्रयोग से देश में जनपद को एक माॅडल के रूप में पहचान मिले। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी राहुल पाण्डेय ने कहा कि जनपद मंे पोषण अभियान को सफल बनाये जाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी द्वारा किये जा रहे अभिनव प्रयासों में सभी को सक्रिय साझेदारी निभाकर जनपद सेे कुपोषण की समस्या को समाप्त करना है। इससे पूर्व जिलाधिकारी ने दीप प्रज्ज्वलित कर प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के अन्त में जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील कुमार श्रीवास्तव द्वारा धन्यबाद ज्ञापित किया गया।प्रतियोगिता अन्तर्गत पोषण चैम्पियन श्रेणी में जिला पूर्ति अधिकारी राकेश कुमार, स्वस्थ्य बच्चा श्रेणी में फखरपुर के श्लोक द्वारा उत्कृष्ट कार्य करने पर जिलाधिकारी द्वारा सम्मानित किया गया। इसके अलावा स्वस्थ्य शिशु श्रेणी में आराध्य निवासी पयागपुर, आरम्भ निवासी बहराइच नगर व शिवांश निवासी बड़ीहाट बहराइच, स्वस्थ्य किशोर/किशोरी श्रेणी में वंशिका, हुरिया व रूकसार तथा स्वस्थ्य गर्भवती श्रेणी में हिना, दिव्या व लक्ष्मी ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया।इसके अतिरिक्त किशोरी मित्र विद्यालय में कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय बौण्डी, फखरपुर, कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय कमोलिया, चित्तौरा व प्राथमिक विद्यालय यादवपुर, तेजवापुर क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे। पोषण प्रेरक श्रेणी में ग्राम प्रधान अनिल निषाद, शहनवाजपुर, रजिया बेगम, घासीपुर, जैनुल आबदीन, बेलहरी, किरन देवी, कोदही, रूपरानी, डढैला, पेशकार, असवा, फूलमती कल्पीपारा, रमेश कुमार, अमीनपुर नगरौर, आॅगनबाड़ी कार्यकत्री टे़डवाउजार सुश्री शिबा को उत्कृष्ट कार्य के लिए जिलाधिकारी द्वारा सम्मानित किया गया। बाल विकास परियोंजनाओं द्वारा लगाये गये स्टालों में नगर प्रथम, तेजवापुर द्वितीय तथा मिहींपुरवा व चित्तौरा संयुक्त रूप से तृतीय स्थान प्राप्त किया।इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी वीरेन्द्र सिंह, डीएसओ राकेश कुमार, डीपीआरओ केबी वर्मा, सीएमएस महिला मधु गैरोला, ब्लड बैंक प्रभारी हीरालाल, बाल विकास परियोजना अधिकारी व ग्राम प्रधान सहित अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *